निज चितवन

  • Home
  • निज चितवन
गुरु माँ  की डायरी से........ 
                 बाड़ा पदमपुरा  राज.
20-02-19 09:10 am

गुरु माँ की डायरी से........ बाड़ा पदमपुरा राज.

हे विज्ञात्मन! जिसका राग तु कर रही है वो आज नही ..

गुरु माँ  की डायरी से........ 
                 बाड़ा पदमपुरा  राज.
19-02-19 09:14 am

गुरु माँ की डायरी से........ बाड़ा पदमपुरा राज.

हे आयुष्य! अनादिकाल से हे जीवात्मन मिथ्यात्व मे ..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
31-01-19 11:57 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे योगीराज! जिस प्रकार दाल से रहित सिर्फ सुफा स..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
30-01-19 08:24 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे आत्माराम! जैसे राम ने दस मुखी विभाव,विकार, वा..

गुरु माँ  की डायरी से........ 
                श्री पार्श्वनाथ दिग. जैन मन्दिर भोगादीत  जिला अजमेर राज.से
29-01-19 08:26 am

गुरु माँ की डायरी से........ श्री पार्श्वनाथ दिग. ज..

हे विज्ञात्मन! तेरे दुख मुल कारण अनादि अविज्ञा..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
28-01-19 08:27 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे हंसात्मन! तु तो ऊपर ही ऊपर उडने वाला है -व्यो..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
27-01-19 08:29 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे विज्ञात्मन! विज्ञा की आराधना से मिथ्यात्व,..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
26-01-19 08:31 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे मुमुक्ष! जीवन मे बदलाव जरूरी हैं। अगर तुम सोच..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
25-01-19 08:30 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे मुमुक्ष ! जो मानव पर्याय की प्राप्त शवासो को स..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
24-01-19 08:32 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे चेतनयात्मा! सोना,चांदी, हीरा, पन्ना, वैडूर्य..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
23-01-19 08:34 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे विज्ञात्मन! जिस प्रकार मंदिर मे शिखर पर कलशा..

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ  जयपुर राज. मे  विराजमान है , गुरु माँ की डायरी से ...।
22-01-19 08:38 am

प.पू गणिनी आर्यिका गुरु माँ जयपुर राज. मे विराजमान है ..

हे वैरागी! जब तक यह कर्म व्रक्ष रागद्धेषादि जल से ..